Sahitya Sangeet

 

Literature Is The Almighty & Music Is MeditationM

 

gallery/images
gallery/images

IMPORTANT LINKS

Ghalib
Spirituality

आशा (Anticipation)

 




रेल की दो पटरियां-----
आमने सामने,
एक दुसरे के करीब,
रहकर भी--
कभी---
एक दुसरे को छुं नहीं सकते !!!
बहुत दूर कहीं;;;
मिलते नजर आते है,,
तो,,,
वह दृष्टि भ्रम है !
एक प्लेटफार्म के पास है///
लोगों के पास--
अपनों के पास !!
दूसरा दूर है,
अपनों से दूर !!!
फिर भी खुश है:::::
क़ि,
पहले के बराबर आधा बोझ """"
हमेशा बाँट लिया करता है;;;;
इस आशा में,क़ि शायद;;;
किसी क्रोसिंग पर=+=+=+=
उससे मिल जाये ()()()()()



( SOMETIMES FATE PLAYS GAME WITH HUMAN BEING.DELIRIUMS,MISUNDERSTANDINGS,MIRAGES CREATE HAVOC IN DAILY LIFE.)
_____

रबीन्द्रनाथ बनर्जी ( रंजन )

 

 


 

gallery/images