Sahitya Sangeet

 

Literature Is The Almighty & Music Is MeditationM

 

gallery/images
gallery/images

IMPORTANT LINKS

Ghalib
Spirituality

दू:साशन ( Dushashan)

 




इस युग में---
दू:साशन,कुछ ज्यादा ही----
शक्तिवान हो गया है !
पहले वह !!!!!
एक ही द्रौपदी का !,!,!,
चीरहरण कर, थककर -----
चूर हो,
पसीने से लथपथ हो,,,
मूर्छित हो गया था ;;;;;
लेकिन अब????
एक ही दू:साशन """"
एक ही दिन में.....
कई-कई द्रौपदिओं का!!!!!
चीरहरण कर,
शीलहरण कर-----
उन्हें मूर्छित करता है !!!!
और खुद:::::::::
श्वेत वस्त्रों में,,,,,,
पांडवों के सामने?????
दनदनाता फिरता रहता है !!!!!



( IT IS SURE THAT THERE MUST BE A GODFATHER SUPPORTING WRONGDOERS.OTHERWISE IT IS QUITE IMPOSSIBLE FOR THE WRONGDOERS TO ESCAPE THE LAW AND REPEAT AGAIN AND AGAIN THE SAME CRIME.ONLY SUFFERER ARE LAW ABIDING PEOPLE.)
_____

रबीन्द्रनाथ बनर्जी ( रंजन )

 

 


 

gallery/images